fbpx
Drumroll New Website Launch Email Header by real moment
Home NEWS NATIONAL NEWS LSR की ऐश्वर्या की मृत्यु एक आत्महत्या या संस्थागत हत्या(Institutional murder)?

LSR की ऐश्वर्या की मृत्यु एक आत्महत्या या संस्थागत हत्या(Institutional murder)?

3 नवंबर को तेलंगाना राज्य की बारहवीं की टॉपर रहीं,19 वर्षीय,Bsc द्वितीय वर्ष की LSR की छात्रा ऐश्वर्या रेड्डी की आत्महत्या ने देश की राजधानी दिल्ली में छात्रों के बीच सनसनी मचा दी है।

ऐश्वर्या ने अपने सुसाइड नोट में आर्थिक समस्याओं का ज़िक्र करते हुवे लिखा की” मैं पढ़ना चाहती हूँ पर मैं अपने माता-पिता पर बोझ नहीं बनना चाहती”,ऐश्वर्या एक मेधावी छात्रा रही हैं उन्हें Ministry of Science and Technology से INSPIRE scholarship,भी मिलती रही है।

LSR की ऐश्वर्या की मृत्यु एक आत्महत्या या संस्थागत हत्या(Institutional murder)? 3 नवंबर को तेलंगाना राज्य की बारहवीं की टॉपर रहीं,19 वर्षीय,Bsc द्वितीय वर्ष की LSR की छात्रा ऐश्वर्या रेड्डी की आत्महत्या ने देश की राजधानी दिल्ली में छात्रों के बीच सनसनी मचा दी है।
ऐश्वर्या के माता-पिता

लेकिन मार्च से उन्हें यह स्कालर्शिप न मिल पाने से उनका आगे पढ़ पाना असंभव हो गया था जिसके कारण वह बहुत मानसिक तनाव से गुज़र रही थी । बता दें कि उन्होंने अभिनेता सोनू सूद को भी ईमेल मदद के लिए ईमेल किया था ,जिसमें उन्होंने कहा कि उनके परिवार के पास सेकेंड हैंड लैपटॉप ख़रीदने तक का पैसा नहीं है जिसके कारण वह ऑनलाइन क्लैसेज़ नहीं कर पा रही और इसके अभाव में वह फेल हो जाएँगी।

NSUI,Aisa समेत देश के तमाम बड़े छात्र संगठनों ने सड़कों पर प्रदर्शन किया,दिल्ली यूनिवर्सिटी का घेराव करते हुवे युवाओं ने यह प्रश्न उठाया कि कब तक इस तरह से यह देश मेधावी छात्रों को खोता रहेगा, स्कालर्शिप न मिलने के कारण ऐसे बहुत छात्र अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाते, LSR की प्रधानाचार्य ने कहा कि कॉलेज अड्मिनिस्ट्रेशन को इस विषय में जानकारी नहीं थी अन्यथा वह ऐश्वर्या की सहायता ज़रूर करते
दिल्ली विश्वविद्यालय पर प्रदर्शन करते छात्र

NSUI,Aisa समेत देश के तमाम बड़े छात्र संगठनों ने सड़कों पर प्रदर्शन किया,दिल्ली यूनिवर्सिटी का घेराव करते हुवे युवाओं ने यह प्रश्न उठाया कि कब तक इस तरह से यह देश मेधावी छात्रों को खोता रहेगा, स्कालर्शिप न मिलने के कारण ऐसे बहुत छात्र अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाते, LSR की प्रधानाचार्य ने कहा कि कॉलेज अड्मिनिस्ट्रेशन को इस विषय में जानकारी नहीं थी अन्यथा वह ऐश्वर्या की सहायता ज़रूर करते।

आर्थिक तंगीयों के कारण पढ़ाई न कर पाने के कारण आत्महत्या करने वाली ऐश्वर्या ने सभी के समक्ष एक प्रश्न खड़ा कर दिया है की क्या गाँव से आने वाले बड़े शहरों में अच्छी पढ़ाई का सपना देखने वाले बच्चों का यही अंजाम होगा।

तेलंगाना से अनेकों सपने लिए दिल्ली विश्वविद्यालय में पढ़ने वाली छात्रा ऐश्वर्या के इस कदम ने सरकार और कॉलेज अड्मिनिस्ट्रेशन पर एक बड़ा सवाल खड़ा कर दिया इस घटना ने छात्रों के बीच बहुत आक्रोश पैदा कर दिया है जो दिल्ली में आज के प्रदर्शन में साफ़ नज़र आ रहा था।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

टीना डाबी व आमिर आथर का तलाक – शादी भी चर्चित और अब तलाक भी।

वर्ष 2016 की आई ए एस टॉपर टीना डाबी व उनके पति आमिर ने शादी के दो साल बाद ही आपसी सहमति से तलाक...

धोखाधड़ी का मामला दर्ज,6 गिरफ्तार

पीड़ितों ने संजय भाटी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। मेसर्स गर्विनेट इनोवेटिव प्रमोटर्स लिमिटेड का प्लॉट नंबर -1, चिटी, दादरी, जिला में अपना...

ब्रिक्स शिखर सम्मेलन का आगाज

कोरोना महामारी के चलते ब्रिक्स देशो ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मुलाकात की। रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन की अध्यक्षता मे आयोजित इस...

फाइनेंस मिनिस्टर ने आत्मानिभर भारत 3.0 की घोषणा की, नई नौकरी योजना शुरू

फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में कई नई योजना की घोषणा,आइये जानते है फाइनेंस मिनिस्टर ने किया कहा:-  फाइनेंस मिनिस्टर ने 65,000 रुपये...

Recent Comments