fbpx
Drumroll New Website Launch Email Header by real moment
Home NEWS NATIONAL NEWS पीएम मोदी 70 साल के हुए: यह उनकी 5 ऐतिहासिक आर्थिक नीतियां...

पीएम मोदी 70 साल के हुए: यह उनकी 5 ऐतिहासिक आर्थिक नीतियां हैं जिन्होंने आम भारतीयों के जीवन को बदल दिया

2014 में केंद्र में सत्ता में आने के बाद से प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली एनडीए सरकार ने कई नीतियों की घोषणा की है।

पीएम मोदी की इन सभी नीतियों को भारतीय को सही अवसर प्रदान करने और उनके जीवन को बेहतर बनाने के लिए निर्देशित किया जाता है।

यहां 5 प्रमुख आर्थिक नीतियों को देखा जा रहा है जिन्होंने आम आदमी के जीवन को बदल दिया है।

प्रधानमंत्री जन-धन योजना

पीएम मोदी 70 साल के हुए: यहां उनकी 5 ऐतिहासिक आर्थिक नीतियां हैं जिन्होंने आम भारतीयों के जीवन को बदल दिया
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

प्रधानमंत्री जन-धन योजना पीएम मोदी द्वारा सीमांत वर्गों को वित्तीय समावेश और समर्थन देने के लिए घोषित सबसे उल्लेखनीय योजनाओं में से एक है। पीएमजेडीवाई की घोषणा प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त 2014 को अपने स्वतंत्रता दिवस के भाषण में की थी।

यह भी पढ़ें-कंगना रनौत ने जया बच्चन पर किया पलटवार तो उर्मिला मातोंडकर बोलीं- जब उनका जन्म भी नहीं हुआ था तब से ही…

इस योजना के मूलभूत मूलभूत सिद्धांतों में निम्नलिखित शामिल हैं:

बैंकिंग अनबैंक्ड – न्यूनतम कागजी कार्रवाई, आराम से केवाईसी, ई-केवाईसी, कैंप मोड में खाता खोलने, शून्य शेष और शून्य शुल्क के साथ मूलभूत बचत बैंक जमा (बीएसबीडी) खातों का शुभारंभ

असुरक्षित स्थानों को रोकना – दो लाख रु की मुफ्त दुर्घटना बीमा पॉलिसी के साथ व्यापारी स्थानों पर नकद निकासी और भुगतान के लिए स्वदेशी डेबिट कार्ड जारी करना।

अप्रकाशित वित्त पोषण – अतिरिक्त वित्तीय उत्पाद जैसे कि माइक्रो-बीमा, अंतर्ग्रहण के लिए ओवरड्राफ्ट, माइक्रो-पेंशन और माइक्रो-क्रेडिट

यह भी पढ़ें-मौनी रॉय का रिलैक्स्ड लुक घर पर एक चिल डे के लिए है ,देखे खूबसूरत तस्वीरों को

अटल पेंशन योजना

पीएम मोदी 70 साल के हुए: यहां उनकी 5 ऐतिहासिक आर्थिक नीतियां हैं जिन्होंने आम भारतीयों के जीवन को बदल दिया
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

अटल पेंशन योजना (APY) मोदी सरकार की एक और प्रमुख सामाजिक सुरक्षा योजना है। मई 2015 को लॉन्च किया गया, APY ने इस साल सफल कार्यान्वयन के पांच साल पूरे किए। APY का उद्देश्य असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को विशेष रूप से वृद्धावस्था आय सुरक्षा प्रदान करना है।

यह भी पढ़ें–विराट कोहली दुबई के होटल के पुल में टीम के साथ मौज मस्ती करते हुए , देखे तस्वीरे

मई 2015 को लॉन्च किया गया, एपीवाई ने इस साल पांच दशक का सफल निष्पादन किया। APY का उद्देश्य असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को विशेष रूप से वृद्धावस्था आय संरक्षण प्रदान करना है।

APY को बैंक खाते का उपयोग करके 18-40 वर्ष की आयु में किसी भी भारतीय नागरिक द्वारा सदस्यता ली जा सकती है। एपीवाई को जोड़ने की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 40 वर्ष है।

इसलिए, एपीवाई के तहत अंशदाता द्वारा भागीदारी की न्यूनतम राशि 20 वर्ष या उससे अधिक होगी। सबसे पहले, यह न्यूनतम गारंटीकृत पेंशन प्रदान करता है जो 60 वर्ष की आयु तक पहुँचने पर 1000 रुपये से 5000 रुपये तक होती है।

यह भी पढ़ें-जाने क्या youtube star CarryMinati उर्फ ​​अजय नागर Bigg Boss season 14 का हिस्सा होंगे ?

दूसरा योगदानकर्ता की मृत्यु पर जीवनसाथी को पेंशन की राशि की गारंटी दी जाती है। तीसरा, सब्सक्राइबर और पार्टनर की मृत्यु के मामले में, नॉमिनी को पूरी पेंशन कॉर्पस का भुगतान किया जाता है।

APY में पूर्व-निर्धारित मासिक उपहार हैं। APY के नीचे, ग्राहकों को रु। की निश्चित सेवानिवृत्ति मिलेगी। 1000 प्रति माह, रु। 2000 प्रति माह, रु। 3000 प्रति माह, रु। 4000 प्रति माह, रु। 5000 प्रति माह, 60 वर्ष की आयु में, उनके उपहारों के आधार पर, जो एपीवाई को जोड़ने के समय में भिन्न होगा।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY)

पीएम मोदी 70 साल के हुए: यहां उनकी 5 ऐतिहासिक आर्थिक नीतियां हैं जिन्होंने आम भारतीयों के जीवन को बदल दिया
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

प्रधान मंत्री मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) को वित्त वर्ष 2016 के लिए केंद्रीय बजट में जारी किया गया था। माइक्रो यूनिट, जो माइक्रो यूनिट्स डेवलपमेंट एंड रिफाइनेंस एजेंसी लिमिटेड के लिए है, एक वित्तीय संस्थान है, जो भारत सरकार द्वारा सूक्ष्म यूनिट उपक्रमों के विकास और पुनर्वित्त के लिए स्थापित किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें- 6 सरकारी कंपनियों को बंद करने की तैयारी में सरकार, अनुराग ठाकुर ने दी जानकारी

MUDRA नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों, सोसायटी, ट्रस्ट, सेक्शन 8 बिजनेस, को-ऑपरेटिव सोसायटी, स्मॉल बैंक, शेड्यूल्ड कमर्शियल बैंक और रीजनल रूरल बैंक्स जैसे सभी लास्ट माइल फाइनेंशियर्स को रीफाइनेंसिंग के लिए देते हैं।

व्यावसायिक संस्थाएँ विनिर्माण, व्यापार और सेवाओं की गतिविधियों में संलग्न हैं। MUDRA राज्य / क्षेत्रीय स्तर के वित्तीय मध्यस्थों के साथ छोटे / सूक्ष्म व्यापार उपक्रमों के माइल फाइनेंसर को फंड देने के लिए भी सहयोग करेगा।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PMUY)

पीएम मोदी 70 साल के हुए: यहां उनकी 5 ऐतिहासिक आर्थिक नीतियां हैं जिन्होंने आम भारतीयों के जीवन को बदल दिया
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

मोदी सरकार ने मई 2016 में प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना (पीएमयूवाई) का शुभारंभ किया, जिसका लक्ष्य राष्ट्र में गरीब परिवारों को 8 करोड़ जमा मुफ्त एलपीजी कनेक्शन की आपूर्ति करना था।

यह भी पढ़ें-बीजेपी नेता नितेश राणे ने दिशा सालियान के बॉयफ्रेंड रोहन पर उठाए सवाल ; कहा ‘वो इतने दिनों से…

योजना का उद्देश्य गरीब परिवारों को स्वच्छ खाना पकाने के ईंधन को पेश करना और अस्वास्थ्यकर पारंपरिक खाना पकाने के ईंधन जैसे कि जलाऊ लकड़ी, काऊडंग आदि को बदलना था।
अब पढ़िए हर एक खबर अपनी भाषा हिंदी में news-express.in पे

हालांकि, यह लक्ष्य पहले से बहुत अधिक हो गया था। तीन राज्य के स्वामित्व वाली ऑयल मार्केटिंग कंपनियों यानी IOCL, BPCL और HPCL ने मिशन मोड में राष्ट्र के सभी राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों में इस योजना को लागू किया है और अपने टाइमलाइन सेट (मार्च 2020) से सात महीने पहले 8 करोड़ संबंधों का लक्ष्य प्राप्त किया है।

स्वर्ण मुद्रीकरण योजना

पीएम मोदी 70 साल के हुए: यहां उनकी 5 ऐतिहासिक आर्थिक नीतियां हैं जिन्होंने आम भारतीयों के जीवन को बदल दिया
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

मोदी सरकार ने नवंबर, 2015 में गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम की स्थापना की थी।
गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम लोगों के लिए वर्तमान में दो रणनीतियों, गोल्ड डिपॉजिट स्कीम और गोल्ड मेटल लोन स्कीम को बदलकर सोने का विपणन करने के लिए अलग-अलग विकल्प प्रदान करती है।

यह भी पढ़ें-मैं एक बड़े स्टार की बेटी नही थी इसलिए लोगो ने मेरी पहली फिल्म Hacked कोई नही देखी ;हिना खान

राष्ट्र में परिवारों और संस्थानों द्वारा रखे जाने वाले निष्क्रिय सोने को इकट्ठा करने और इस सोने को उत्पादक उपयोग और लंबे समय में रखने के लिए, सोने के आयात को पूरा करने के लिए सोने के आयात पर देश की निर्भरता को घटाकर चालू खाते के घाटे को कम करने के लिए रणनीति की योजना है।

यह भी पढ़ें-

मौनी रॉय का रिलैक्स्ड लुक घर पर एक चिल डे के लिए है ,देखे खूबसूरत तस्वीरों को

कंगना रनौत ने जया बच्चन पर किया पलटवार तो उर्मिला मातोंडकर बोलीं- जब उनका जन्म भी नहीं हुआ था तब से ही…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Sushant Singh Death News: एम्स फॉरेंसिक टीम की रिपोर्ट होगी निर्णायक, सुशांत की ‘मौत’ को लेकर खत्म होगा सस्पेंस

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत का राज अब खुलने ही वाला है। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान की फॉरेंसिक टीम की अपनी रिपोर्ट...

IPL 2020 शुरू होने से एक दिन पहले बदला नियम, जाने अब हर टीम में होंगे सिर्फ कितने खिलाड़ी

IPL 2020 शुरू होने से एक दिन पहले बदला नियम, अब हर टीम में होंगे सिर्फ 17 खिलाड़ी IPL 2020 को शुरू होने में अब...

नीति आयोग के सीईओ ने कहाँ भारतीय रेल और निवेशकों दोनों के पक्ष में है रेलवे का निजीकरण ,जाने कैसे ?

भारतीय रेल में निजीकरण को लेकर नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत होने वाले फायदों को गिनाया। अमिताभ कांत...

चीन सीमा विवाद पर बोले राजनाथ, भारत हर कदम उठाने को तैयार, झुकने नहीं देंगे देश का सिर

चीन के साथ सीमा विवाद पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि 15 जून को कर्नल संतोष बाबू ने अपने 19 बहादुर सैनिकों...

Recent Comments